Health Is Wealth Essay In Hindi

Health Is Wealth Essay In Hindi

Health Is Wealth Essay In Hindi:स्वास्थ्य हमारे लिए बहुत ही जरूरी है। अगर स्वास्थ्य चला गया तो सब कुछ खत्म हो जाता है। अगर हमारा स्वास्थ्य ही सही नहीं रहेगा तो हम भोजन का आनंद भी नहीं ले सकते हैं और ना ही इस दुनिया में रह रहे हैं उस दुनिया का आनंद ले सकते हैं।

Health Is Wealth Essay In Hindi

प्रस्तावना

अगर हमें आनंद पूर्वक जीवन व्यतीत करना है तो हमें अपने स्वास्थ्य का बहुत ही अच्छी तरह से ध्यान रखना होगा। अगर देखा जाए तो एक बीमार व्यक्ति बहुत ही ज्यादा दुखी रहता है हमेशा क्योंकि यह अपने जीवन में खुश नहीं रहता। अपनी बीमारी को लेकर हमेशा परेशान ही रहता है।

अगर वही एक स्वस्थ व्यक्ति को देखा जाए तो वह बहुत ही खुश रहता है क्योंकि उसका स्वास्थ्य बहुत ही अच्छा रहता है। हमेशा इसीलिए उसका जीवन शांतिपूर्ण भी रहता है। इसीलिए हम कह भी सकते हैं कि हमारे असली धन दौलत संपत्ति नहीं बल्कि स्वास्थ्य है।

स्वास्थ्य मानसिक कल्याण के रूप में

स्वास्थ्य केवल एक बीमारी ही नहीं होती है, बल्कि हमारी सोच भी होती है। स्वास्थ्य की वजह से हम शारीरिक, सामाजिक और मानसिक विकास कल्याण कर सकते हैं। स्वास्थ्य किसी की जीवन दक्षता को दर्शाता है। अगर कोई व्यक्ति के दिमाग शरीर और आत्मा की स्थिति सामान्य नहीं हो तो इसका मतलब यह नहीं होता कि वह बीमारी में हो, उसको चोट लगी है या कहीं उसको दर्द है। अगर हम मजबूत और स्वस्थ रहेंगे तो हम खुद को दूसरों के सामने उदाहरण के रूप में पेश कर सकते हैं और सिखा सकते हैं कि जीवन में कैसे स्वस्थ रहा जाए।

इसे भी पढ़े: Navratri Essay In Hindi

अच्छे स्वास्थ्य के लिए

अगर हम अपना स्वास्थ्य अच्छा रखना चाहते हैं तो हमें एक बहुत ही अच्छी जीवनशैली का पालन करना चाहिए। जो लोग इस जीवनशैली का पालन नहीं कर सकते हैं, वह अधिकतर अधिक वजन उच्च रक्तचाप, हृदयरोग, मोटापा, मधुमेह, उच्च कोलेस्ट्रॉल, गुर्दे की समस्याओं, यकृत विकारों और ना जाने कितनी बीमारियों का शिकार होते रहते है।

उनका शरीर हमेशा और स्वस्थ और थकान से भरा ही रहता है। जिसकी वजह से वह अपना आत्मविश्वास और प्रेरणा को खो देते हैं। वह हमेशा यही सोचते हैं कि हम इस काम को नहीं कर पाएंगे। यह यह काम हमसे नहीं हो सकता। इसकी वजह से वह डिप्रेशन के शिकार भी हो जाते हैं। अगर हमें अपना अच्छा स्वास्थ्य रखना है तो इसके लिए हमें अच्छे जीवन शैली का पालन करना बहुत ही आवश्यक है।

हमारे लिए अच्छा स्वास्थ्य रखना भगवान का एक आशीर्वाद के समान है। हमें हमेशा अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखना चाहिए और हमेशा समय पर सरल और संतुलित आहार लेते रहना चाहिए। इसी के साथ हमें समय-समय पर व्यायाम करते रहना चाहिए। अगर हम रोगमुक्त शरीर चाहते हैं तो हमें चाहिए कि हम सुबह उठते ही व्यायाम करें। इससे हमारा शरीर तरोताजा बना रहता है और वह कई बीमारियों से बचाता है।

सबसे जरूरी बात यह है कि हमें अपने घर में और अपने आसपास की जगह को बिल्कुल साफ सुथरा रखना चाहिए, क्योंकि स्वच्छ वातावरण से हमारा शरीर स्वस्थ बना रहता है। गंदे वातावरण से कई बीमारियां पनपती है, जो कि हमारे शरीर के लिए हानिकारक साबित हो सकती है।

सबसे आवश्यक यह है कि हम दिन भर में खूब पानी पिए, जिससे अपने शरीर को मजबूत रख सके। क्योंकि पानी पीने से हमारे शरीर की कई बीमारियां दूर हो जाती है और संक्रमण का खतरा कम रहता है। इससे हमारी त्वचा भी स्वस्थ रहती है, पानी दिल का दौरा खत्म करने में बहुत ही मददगार साबित होता है और इससे हमारे शरीर का तापमान भी सामान्य रहता है।

अधिक हंसना यह हमारे लिए बहुत ही आवश्यक है। क्योंकि यह प्राणायाम का काम करता है और चिकित्सक हमेशा यही सलाह देते हैं कि हंसना स्वास्थ्य के लिए बहुत ही लाभकारी होता है और हमें कोई भी बुरी आदत का सेवन नहीं करना चाहिए। जैसे कि धूम्रपान, शराब पीना क्योंकि इससे हमारे स्वास्थ्य पर बहुत ही अतिरिक्त प्रभाव पड़ता है।

हमे हमेशा पौष्टिक आहार का ही सेवन करना चाहिए। जैसे कि हरी सब्जियां, ताजे फल, दूध, दही, अंडे यह हमारे शरीर को ताकत देते हैं, क्योंकि इसमें प्राकृतिक विटामिन और मिनरल पाए जाते हैं। हमें सही समय पर खाना खाना चाहिए, इससे हमारा पाचन तंत्र सही रहता है।

आजकल की जनरेशन को सबसे ज्यादा जंक फूड, तेल और नमक युक्त खाना बहुत ही पसंद आता है, जो कि हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत हानिकारक होता है। जितना हो सके हमें इससे बचना चाहिए, बहुत अधिक पसंद होने पर कभी कबार खाया जा सकता है। परंतु रोजाना में इसका सेवन हमारे लिए नुकसानदायक हो सकता है।

हमें अपने शरीर को सही समय पर आराम देना चाहिए, अच्छी नींद लेनी चाहिए, पौष्टिक भोजन करना चाहिए और स्वच्छता का भी ध्यान रखना चाहिए, जिससे हमारा वातावरण भी स्वच्छ रहे। इससे हमारी इम्यूनिटी मजबूत बनी रहती है और हमें बार-बार डॉक्टर के पास जाने की आवश्यकता नहीं पड़ती है।

बढ़ती हुई मुश्किलें

आजकल की टेक्नोलॉजी के हिसाब से मनुष्य बहुत ही आलसी बन गया है, जिसकी वजह से बीमारियां ज्यादा शरीर पर हावी होने लगे हैं। दूषित पर्यावरण और खाद्य पदार्थों की वजह से बहुत ही ज्यादा परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

प्राचीन समय में लोग दिनभर में परिश्रम से काम करते थे, इसके पश्चात व्यायाम करते थे। जिससे बहुत ही ज्यादा पसीना आता था और पसीना जितना आता है उतनी ही बीमारियां कम होने की संभावना होती है। परंतु मशीनों की वजह से लोगों का काम बहुत ही आसान हो गया है, जिसकी वजह से ना तो वह व्यायाम करते हैं और ना ही परिश्रम करते हैं।

कार्यस्थल पर लोग 8 से 9 घंटे सुबह से रात तक बस एक ही जगह बैठे रहते हैं। उसके पश्चात खाना खाकर घर आ कर सो जाते हैं। अगले दिन फिर सुबह ऑफिस वैसे ही रोज की दिनचर्या चलती रहती है, जो कि हमारा स्वास्थ्य खराब करने के लिए सबसे बड़ा कारण बना हुआ है।

इसे भी पढ़े : Mere Jeevan Ka Lakshya Essay In Hindi

अच्छे स्वास्थ्य की आवश्यकता

जैसे की आपने सुना ही होगा की जिस व्यक्ति के पास एक स्वस्थ शरीर के साथ – साथ स्वस्थ दिमाग भी है ,तब उस व्यक्ति के पास ही दुनिया की असली सम्पति मौजूद है ।

यह बात इसलिए कही जा रही है , क्योकि यदि आपके पास बहुत धन ( संपत्ति ) तथा ढेर सारा समय हो लेकिन यदि आपके पास इस संपत्ति तथा समय को खर्च करने के लिए अच्छा स्वस्थ शरीर ही नहो हो तो कैसा होगा। जी हां बिलकुल सही सोच रहे है अच्छे स्वस्थ के बगैर कितनी भी संपत्ति का कोई महत्त्व नही रह जाता है।

क्योक अच्छी हेल्थ ही सच्ची वेल्थ होती है , आज के वर्तमान समय में सभी व्यक्ति आपने काम – काजो में इतने अधिक व्यस्त हो चुके है की वो अपने जीवन का पूरी तरह से आनंद ले ही नही रहे है । क्योकि व्यक्ति की अपने काम में अधिक व्यस्तता होने के कारण वह अपने ख़ास – पान पर बिलकुल भी ध्यान नही देता है और न ही वो अपने शरीर को स्वस्थ बनाने पर ध्यान देता है । आजकल की लाइफस्टाइल में बहुत से लोग फ़ास्ट – फ़ूड का सेवन करते है , जिससे बहुत सी बीमारिया ( मोटापा , दिल की बिमारिया , हाई ब्लड प्रेशर ) होना का खतरा बना रहता है ।

हमें अच्छे स्वास्थ्य की आवश्यकता इसलिए भी है , की जहा पहले एक व्यक्ति की औसत उम्र 70 – 90 साल होती थी। वही आज काम में अधिक व्यस्तता तथा असंतुलित खाना खाने – पीने की आदतों के कारण आज के समय में व्यक्ति की औसत उम्र मात्र 55- 70 साल हो गयी है। इसलिए हमें अपने स्वास्थ्य के लिए सोचने की आवश्यकता है, अब तो आपको पता चला ही गया होगा की हमें अच्छे स्वास्थ्य की आवश्यकता क्यों है ? वर्तमान समय में अच्छा स्वास्थ्य आवश्यकता ही नही हमारी मजबूरी भी है।

बढ़ते प्रदुषण का मानव के स्वास्थ्य पर प्रभाव

जिस गति से हमारे देश में विकास कार्य बढ़ रहा है , उसी गति से हमारे देश में अनेको प्रकार के प्रदुषण भी बढ़ रहे है और जब हमारे वातावरण में प्रदुषण लगातार बढ़ता है तब उसी के साथ – साथ बीमारियों की संख्या भी बहुत तेज गति के साथ बढ़ने लगती है।

21 वी सदी का यह समय ऐसा समय है , जब प्रत्येक देश निरंतर विकास की ओर अग्रसर है और इसी अंधे विकास की आड़ में अनेको तरह के प्रदुषण फैलाए जा रहे है । जिनका मानव जीवन तथा उनके स्वास्थ्य पर बहुत बुरा असर पड़ता है । किसी व्यक्ति के स्वास्थ्य को प्रभावित करने वाले कुछ प्रमुख प्रदुषण इस प्रकार से है –

वायु प्रदुषण

 वायु ( हवा ) में प्रदुषण तब होता है , जब फैक्ट्रियो तथा कल – कारखानों द्वारा वातावरण में जहरीली गैसे छोड़ी जाती है । इन जहरीली गैसों का मनुष्य के स्वास्थ्य पर बहुत बुरा असर होता है , इसी के कारण से लोगो में श्वास सम्बन्धी समस्याए । फेफड़ो का केंसर तथा तीव्र श्वसन संक्रमण जैसी समस्याए होती है , वायु प्रदुषण बहुत बड़े स्तर पर लोगो के श्वसन तंत्र तथा  स्वास्थ्य को प्रभावित करता है।

जल प्रदुषण

जल प्रदुषण तब होता है , जब फैक्ट्रियो तथा कल – कारखानों और लोगो द्वारा नदियों । तालाबो में गन्दा और विषैला पानी छोड़ा जाता है , इसी से पीने का पानी प्रदूषित होता है । प्रदूषित पानी पीने से होने वाली बीमारियों में मुख्य रूप से लूस – मोशन, पीलिया तथा डायरिया है , जल प्रदुषण भी बहुत बड़े स्तर पर लोगो के स्वास्थ्य को प्रभावित करता है।

स्वास्थ्य के क्षेत्र में बढती टेक्नोलॉजी के लाभ

आज के टेक्नोलॉजी के बढ़ते युग में हम बेहतर स्वास्थ्य की कल्पना तो कर ही सकते है , यहा तक की केंसर जैसी घटक बीमारियों का इलाज भी वर्तमान समय की टेक्नोलॉजी से संभव है । जिस गति से आज के समय में स्वास्थ्य के क्षेत्र में अविष्कार किये जा रहे है । इसके मुताबिक आने वाले समय में किसी भी व्यक्ति के लिए अच्छा स्वास्थ्य प्राप्त करना अब बहुत आसान होने वाला है, लेकिन बढती टेक्नोलॉजी के कुछ दुष्परिणाम भी है ।

जैसे की भविष्य में होने वाली बीमारियों का इलाज अत्यंत महंगा होने वाला है । जिससे की बीमारियो के खर्चे एक सामान्य व्यक्ति लिए चूका पाना अत्यंत मुश्किल है, भले ही भविष्य में हमें अच्छे स्वास्थ्य को बनाये रखने के लिए बेहतर टेक्नोलॉजी मिल रही है । लेकिन हमें भी अपने स्वास्थ्य को बेहतर बनाने पर जोर देना चाहिए , हमें प्रतिदिन बेहतर नींद के साथ अच्छा संतुलित आहार लेना चाहिए । हम सभी आशा करते है की भविष्य में स्वास्थ्य के क्षेत्र बढ़ने वाली टेक्नोलॉजी मानव स्वास्थ्य के लिए कारगर साबित होगी।

इसे भी पढ़े:Navratri Essay In Hindi

credit:SyncTech Learn

उपसंहार:-

स्वास्थ्य ही जीवन है हमें जान लेना चाहिए की “हेल्थ इस वेल्थ” मात्र एक लोकप्रिय मुहावरा नही है, बल्कि इस छोटे से वाक्य में बहुत गहरी बाते छुपी हुई है । क्योकि जब तक हम शारीरिक तथा मानसिक रूप से स्वस्थ नही होते है , तब तक हम अपने जीवन का बेहतर आनंद नही ले सकते है और यदि हम स्वस्थ ही नही होंगे । तब हमने अपने जीवन में जो भी लक्ष्य बनाये है, उन्हें हम पूरा ही नही कर पायेंगे । आज के समय में अच्छा स्वास्थ्य सभी के लिए मात्र आवश्यकता ही नही बल्कि सभी की मज़बूरी भी है ।

Leave a Comment

Your email address will not be published.