samay ka mahatva essay in hindi

Samay Ka Mahatva Essay In Hindi

Samay Ka Mahatva Essay In Hindi:जब से सृष्टि का निर्माण हुआ है, तबसे समय का भी निर्माण हुआ है। पूरी दुनिया में अगर कोई भी शक्तिशाली चीज़ है तो वो समय है क्योंकि समय आपको एक पल में राजा भी बना सकता है और रंक भी। इस लिए सभी  व्यक्तियों को समय का मूल्य समझना चाहिए। समय का चक्र  निरंतर चलता ही रहता है और कभी किसी के लिए नहीं रुकता।

Samay Ka Mahatva Essay In Hindi

बीता हुआ समय कभी भी वापस लौट के नही आता।  प्रकृति भी समय के महत्व को समझती है। इसलिए प्रकृति के सारे घटक समयानुसार चलते है, जैसी की सूर्य, चाँद , मौसम आदि। इस दुनिया में सब कुछ समय पर निर्भर करता है, समय से पहले कुछ भी नहीं होता है।

प्रस्तावना

जो समय के मूल्य को नहीं जानते हैं इनके लिए समय को मारना हत्या नहीं है, यह एक आत्महत्या है।

समय का माप

समय अमाप है। समय का कोई आरंभ और अंत नही है। समय अविभाज्य और अतुलनीय है।समय को सेकंड, मिनट, घंटे, दिन, सप्ताह, महीने, साल, दशक और सदियों में बांटा गया है। समय  हमेशा आगे की ओर बढ़ता जाता रहता है, वो कभी पीछे मुड़कर नही देखता। समय से दुनिया का कोई भी व्यक्ति जीत नहीं सकता। समय की कोई सीमा निर्धारित नहीं कर सकता है। समय एक बहुत शक्तिशाली चीज है, जिसके साथ वस्तुएं पैदा होती हैं, बढ़ती हैं, घटती हैं और नष्ट होती हैं।

समय ही एक ऐसा उपकरण है जिसका यदि उत्पादक रूप से उपभोग किया जाए तो यह जीवन में चमत्कार कर सकता है। समय को कोई रोक या धीमा नहीं कर सकता, हर मिनट जो बीत जाता है उसकी गिनती होती है। विचारहीनता समय की हत्या है।

इसे भी पढ़े:Essay On Cricket In Hindi

समय का मूल्य

समय सभी के लिए मुफ़्त होता है। उसकी कोई कीमत नहीं है, फिर भी समय सभी के लिए कीमती है। समय का

केवल उपयोग ही किया जा सकता है। कोई भी इसे खरीद या बेच नहीं सकता है। जो समय को परखता है सफलता भी उसके ही कदम चूमती है। गीता में भी भगवान ने मानव को समय का महत्व समझाया है।दुनिया के महापुरुष प्रसिद्धि, गौरव और सफलता की ओर बढ़े क्योंकि उन्होंने हमेशा अपने समय का सर्वोत्तम उपयोग किया। उन्होंने समय पर अपनी छाप छोड़ी। वे अमर हो गए। वे आने वाली पीढ़ियों के लिए मार्गदर्शक और प्रेरणा स्रोत हैं।

जो व्यक्ति समय के मूल्य को नहीं समझता और अपना कीमती समयबर्बाद कर देता है, उसे जीवन में हमेशा असफलताएं मिलती है। समय को व्यर्थ गवाना मूर्खों की निशानी है। समय का व्यर्थ उपयोग मनुष्य को नष्ट कर देता है। धन और समृद्धि की विलासिता में लोग अक्सर अपने समय को महत्व देना भूल जाते हैं, क्योंकि वे नहीं जानते कि यह समय है जो हमें ये सब कुछ दे सकता है लेकिन समृद्धि और धन हमें समय नहीं दे सकते। समय को पृथ्वी पर सबसे बुरी चीज माना जाता है, क्योंकि समय की बर्बादी हमें और हमारे भविष्य को नष्ट कर देती है।

समय का प्रभावी उपयोग

कोई भी व्यक्ति अगर समय का सही उपयोग करना सीख गया तो निश्चित सफलता उनके कदम चूमेगी। समय का सदुपयोग कर जीवन को नयी दिशा प्रदान की जा सकती है। समय एक प्रेरक शक्ति है। इससे जीवन में कुछ हासिल करने की ललक आती है।

विद्यार्थी के जीवन में समय का काफी योगदान होता है। अगर विद्यार्थी ने समय का सदुपयोग करना सिख गया तो निश्चित वह जीवन में अपने लक्ष्यों तक आसानी से पहुंच सकता है। समय का सदुपयोग कर जीवन को नयी दिशा प्रदान की जा सकती है।

हमारी दिनचर्या जैसे स्कूल का काम, घर का काम, सोने के घंटे, जागने का समय, व्यायाम, भोजन का आयोजन योजना के अनुसार और समय के अनुसार करना चाहिए। हमें कड़ी मेहनत का आनंद लेना चाहिए और बाद में अपनी अच्छी आदतों को कभी नहीं छोड़ना चाहिए। हमें समय के महत्व को समझना चाहिए और इसके अनुसार हमें रचनात्मक प्रयोग करना चाहिए, ताकि हमें समय का आशीर्वाद सदा हम पर बना रहे। दुनिया में हर किसी के

पास दिन के 24 घंटे होते हैं। यह उन पर निर्भर करता है कि वे अपने सुनहरे 24 घंटों का प्रबंधन कैसे करते हैं और अपनी प्राथमिकताएं कैसे तय करते हैं।

इसे भी पढ़े:Essay On Hindi Diwas

विद्यार्थी जीवन में समय का महत्व

हमे समय के बारे मे जानकारी है। तो हमे समय के महत्व के बारे मे सभी को जागरूक करना चाहिए। जब हम विद्यार्थी जीवन मे अपने इस अनमोल समय के बारे मे जान लेते है।

तो हम अपने समय का सुदुपयोग कर अपने जीवन मे सफलता प्राप्त कर सकते है। समय के महत्व को जानने वाला व्यक्ति कभी भी अपने कार्य को नहीं टालता है।

अपना कार्य समय पर करता है। किसी ने लिखा है। ”कल करे सो आज कर आज करे सो अब पल में प्रलय होगीबहुरि करेगा कब”  “इसमे लेखक कार्य को समय पर करने के बारे मे समझने का प्रयास कर रहे है।

महान व्यक्ति जन्म से ही महान नहीं थे। उन्होने समय के महत्व को समय रहते समझा और कर समय का सही उपयोग किया। इसलिए उन्हे सफलता मिली। यदि हम भी समय का महत्व जानकार कार्य को करते है। तो हम भी सफल जरूर होंगे। 

“अब पछताए होत क्या

जब चिड़िया चुग गई खेत। “

जो लोग अपने समय का सही समय पर उपयोग नहीं कर पाये। अपने दोस्तो के साथ हंसी-मज़ाक ही अपना कार्य मानकर चलने वाले लोगो को जब सफलता नहीं मिलती हाई तो   फिर पछताते है।

परंतु अब पछताने से क्या फायदा अपना समय व्यर्थ न करके फिर मेहनत करें। कवि की यही मांग है। कि समय रहते व्यक्ति को सचेत होकर मेहनत करनी चाहिए। पछताने से अपना समय तथा हौसला व्यर्थ होता है। इसलिए

पछताने मे कोई फायदा नहीं है।

इसे भी पढ़े:Essay On Air Pollution In Hindi

समय की शक्ति

पिछले समय में कई राजा खुद को अपनी उम्र के शासक और सभी के रूप में घोषित करते हैं। लेकिन, वे भूल जाते हैं कि उनके पास सीमित समय है। दुनिया में समय ही एकमात्र ऐसी चीज है जो असीम है। समय आपको सेकंड के एक आंदोलन में एक राजा या भिखारी बना सकता है।

अंत में, हम कह सकते हैं कि समय ईश्वर का सबसे बड़ा उपहार है। इसके अलावा, एक कहावत है कि “यदि आप समय बर्बाद करते हैं, तो समय आपको बर्बाद करेगा।” केवल यह रेखा यह बताने के लिए पर्याप्त है कि समय कितना महत्वपूर्ण और मूल्यवान है।

credit:My basic study

उपसंहार

हमें अपने समय को सार्थक बनाने के लिए आलसीपन छोड़कर कड़ी मेहनत करनी चाहिए। समय भी को अपनीने चारों ओर नचाता है। समय का एक ही महान शत्रु है आलस्य। समय सफलता की कुंजी है इसलिए जीवन के छोटे-छोटे क्षण भी बहुत महत्वपूर्ण होते है। हमें अपने बच्चों को समय का महत्व और मूल्य सिखाना चाहिए।

समय ईश्वर का सबसे बड़ा उपहार है। इसके अलावा, एक कहावत है कि “यदि आप समय बर्बाद करते हैं, तो समय आपको बर्बाद कर देगा।” समय कितना महत्वपूर्ण और मूल्यवान है, यह बताने के लिए केवल यही पंक्ति पर्याप्त है। भविष्य में बेहतर महसूस करने के लिए वर्तमान समय का सावधानीपूर्वक और समझदारी से उपयोग करें।

Leave a Comment

Your email address will not be published.